कुंभ राशि 2021 सम्पूर्ण फलादेश, करेंगे असंभव कार्य

कुंभ राशि 2021 का वार्षिक फलादेश
यह समय है पुरानी यादों को पुराने साल के साथ अलविदा करने का और नए साल का नई उमंगों के साथ स्वागत करने का। लेकिन इसके साथ यह भी जानना ज़रूरी है कि आख़िर नए साल में आपके सितारे क्या कह रहे हैं? मेरे गुरूदेव, ज्योतिष विशारद, माँ भगवती के उपासक,  सावत्थीतीर्थ सर्जक तपागच्छाचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी म सा  के सूक्ष्म अवलोकन, अध्ययन, मनन. चिंतन के बाद की संक्षिप्त जानकारी गुरुदेव कि आज्ञा से में मुनि अजितचन्द्र विजयजी प्रस्तुत करता हू.
 उन बदलावों के बारे में कुंभ लग्न वालों का राशिफल 2021 के माध्यम से डालते हैं एक नज़र।
कैसा रहेगा आने वाला वर्ष? कौन कौन से दिन होंगे शुभ?  नौकरी मिलेगी या नहीं?  लड़की की शादी इस वर्ष होगी या नहीं? ऐसे तमाम सवाल आपके जेहन में अवश्य ही उठ रहें होंगे
 तो आइए जानते हैं इन सवालों के जवाब,  लेकिन इससे पहले  एक नज़र डालते हैं  ग्रहों की स्थिति पर।

कुंभ राशि 2021 के अनुसार करियर

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  साल 2021 की शुरुआत में कुम्भ राशि के जातकों के बारहवें घर में अधिकतम ग्रहों की स्थिति, आपके पेशेवर जीवन में कई उतार-चढ़ाव लाने की संभावना है। यह उतार-चढ़ाव की स्थिति पूरे साल आपको थोड़ा परेशान कर सकती है। हालाँकि तीसरे घर में मंगल की मौजूदगी इस बात बात की तरफ भी इशारा करती है कि आप अपनी प्रबल इच्छाशक्ति और ताकत के दम पर सभी बाधाओं पर काबू पाने में कामयाब अवश्य होंगे। नयी नौकरी की तलाश कर रहे कुम्भ राशि के जातकों को जनवरी फ़रवरी और अप्रैल के महीने में मनचाहे परिणाम मिल सकते हैं। इस समय अवधि के दौरान, नौकरी कर रहे जातकों को उनके सह-कर्मियों से पूरा सहयोग प्राप्त होगा जिससे आप अपने काम को बेहद ही आसानी और दक्षता के साथ पूरा करने में कामयाब रहेंगे।
जून से 14 सितंबर तक के समय के दौरान बृहस्पति अपने लग्न में गोचर करेगा, जिससे कुम्भ राशि के जातकों को अपने करियर में सौभाग्य और समृद्धि प्राप्त होगी। हालाँकि, जून और जुलाई के महीनों के दौरान आपके छठे घर में दुर्बल स्थिति में मौजूद मंगल आपके दुश्मनों से आपकी समस्याओं को दर्शाता है। यूँ तो यह समस्याएं ज्यादा समय के लिए आपके जीवन में नहीं रहने वाली हैं लेकिन इससे आपके मानसिक तनाव में वृद्धि अवश्य होगी। अन्य राज्यों में स्थानांतरण या विदेशी भूमि की यात्रा करने की चाह रखने वाले मूल निवासियों को अक्टूबर के महीने के दौरान अपनी इच्छाओं को पूरा करने की संभावना है। साल के आखिरी नवंबर और दिसंबर के महीने, कार्य स्थल पर अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए भी बहुत अच्छे साबित होंगे और यह आपको कार्यक्षेत्र के उच्च पदों को प्राप्त करने में भी आपकी मदद करेंगे। हालाँकि, शनि आपके बारहवें घर में स्थित होने के कारण विदेशी कंपनी या बहु-राष्ट्रीय कंपनियों में काम करने वाले मूल निवासियों के लिए अनुकूल परिणाम देने वाला साबित हो सकता है।
साल 2021 के लिए करियर भविष्यवाणी को समझें तो व्यवसाय के क्षेत्र से जुड़े कुम्भ राशि के जातकों को जनवरी के महीने से परिणाम प्राप्त करने के लिए पूरे वर्ष भर यात्रा करनी पड़ सकती है। जनवरी, फ़रवरी, मई, अगस्त और दिसंबर यह साल के कुछ ऐसे महीने हैं जहाँ आपको बेहतर परिणाम मिलने की प्रबल संभावना बनती नज़र आ रही है। इसलिए इन महीनों में, विशेषतौर से कड़ी मेहनत करने की सलाह दी जाती है। हालांकि, इस पूरे वर्ष में आपके दसवें घर में केतु की स्थिति इस बात की तरफ इशारा करती है कि, आप कभी-कभी उचित विश्लेषण किये बिना किसी काम में शामिल हो सकते हैं, जो आपकी सफलता के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इसलिए अच्छे परिणाम पाने के लिए अपनी इस प्रवृत्ति पर काम करने की कोशिश करें।

कुंभ वित्त राशिफल 2021

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  जनवरी 2021 से मार्च 2021: 2021 के इन महीनों में आपको अपने आर्थिक पहलुओं को और पुख्ता बनाने की प्रक्रिया को और तीव्रता देने की जरूरत रहेगी। क्योंकि संबंधित कार्य एवं कारोबार में पाप ग्रहीय राहू का गोचरीय प्रभाव होने से आप कुछ परेशान रहेगे। किन्तु श्री सूर्य का गोचर आपके लिये जनवरी के महीने से ही शुभ एवं सकारात्मक रहेगा। ऐसे में आपको उम्दा किस्म के लाभ की स्थिति रहेगी। बहुत सम्भव हैं, कि पहुंची हुई संस्था के मध्य आप अपने काम-काजी दस्तावेजों को दुरूस्त करने में सक्षम होते रहेंगे। यानी इस माह आपको सरकार एवं बड़ी संस्था से भी लाभ की स्थिति रहेगी। हालांकि व्यय का स्तर भी बढ़ा हुआ रहेगा। क्योंकि शनि की साढे़साती का प्रभाव इस राशि पर बना हुआ रहेगा। ऐसे में आपकी परेशानी बढ़ी हुई रहेगी। वहीं मंगल का गोचरीय संबंध फरवरी माह में आपके लाभ को बढ़ाने वाला रहेगा। चाहे एवं तकनीक एवं सुरक्षा आदि क्षेत्र हो या अन्य कोई यानी इस माह आपको आय एवं व्यय का संतुलन बनाने की जरूरत बनी हुई रहेगी।

अप्रैल 2021 से जून 2021:

2021 के इन महीनों में वित्तीय लक्ष्यों के करीब बने हुये रहेंगे। क्योंकि वर्ष के इन महीनों में आपको संबंधित ग्रहों की शुभ स्थिति प्राप्त होती रहेगी। ऐसे में आप अपने आय के स्रोतों से धन कमाने के लक्ष्य के नजदीक बने हुये रहेंगे। हालांकि आपके लाभ भाव के स्वामी गुरू की स्थिति 06 अपै्रल तक व्यय भाव में होने के कारण आपको कहीं न कहीं परेशानियों की स्थिति रहेगी। यानी वर्ष के इन महीनों में आपका धन अधिक व्यय होता रहेगा। वहीं राशि स्वामी शनि की स्थिति तथा साढे़साती का प्रभाव होने से आप कुछ धन को लेकर परेशान होते रहेंगे किन्तु गुरू एवं बुध की गोचरीय स्थिति आपके कामों को पूरा करने वाली रहेगी। परिणामतः आपको वर्ष 2021 के इन महीनों में परेशानियों के बाद भी लाभ मिलता हुआ रहेगा। यानी व्यय तो संबंधित मदो में होता रहेगा। किन्तु आय की स्थिति भी कमजोर नहीं रहेगी। कहने का अभिप्राय आय तो बनी हुई रहेगी। जिससे आपके कोई काम नहीं रूकने वाले रहेंगे। अतः अपने स्तर पर प्रयासों को कमजोर न करें।

जुलाई 2021 से सितम्बर 2021:

2021 के इन महीनों में संबंधित कार्य एवं व्यापार के क्षेत्रों से आपको वांछित लाभ मिलता हुआ रहेगा। ऐसे में आप अपने कामों को और सक्रिय होकर करने में लगे हुये रहेंगे। यानी वर्ष के इन महीनों में आपको आर्थिक मामलों में कदम-कदम पर सफलता मिलती हुई रहेगी। हालांकि 16 जुलाई से आपके व्यय में बढ़त की स्थिति रहेगी। ऐसे में आप अपने कामों को और मुस्तैद होकर करने में लगे हुये रहेंगे। इस दरम्यान आपके व्यय बढ़ने की स्थिति बनी हुई रहेगी। किन्तु आप मौजूद अवसरों से इस व्यय को और उत्पादनशील एवं लाभकारी बनाने की दिशा में मोड़ते हुये रहेंगे। वहीं मंगल एवं बुध का गोचर आपको संबंधित क्षेत्रों में कठिनाइयों को देने वाला रहेगा। किन्तु गुरू का गोचर 14 सितम्बर से आपको आय की अपेक्षा अधिक व्यय को देने वाला रहेगा। किन्तु सूर्य एवं मंगल का गाचेर संबंधित वित्तीय क्षेत्रों में आपको निर्भीकता के भावों को भरने वाला रहेगा। कुल मिलाकर वर्ष 2021 के इन महीनों में आपको बहुत ही सूझबूझ से चलने की जरूरत बनी हुई रहेगी।

अक्टूबर 2021 से दिसम्बर 2021:

2021 के यह महीने आपके आर्थिक उन्नति को जारी रखने तथा संबंधित आय के स्रोतों से अच्छी कामयाबी को देने वाले रहेंगे। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर भाग्यभावगत रहेगा। ऐसे में आपके भाग्य मे वृद्धि रहेगी। किन्तु मन अधिक व्यय के कारण और आर्थिक क्षेत्रों में आ रही मुश्किलों के कारण परेशान रहेगा। क्यांेकि संबंधित भाव में सूर्य के साथ शनि का गोचर नुकसान पहुंचाने वाला रहेगा। हालांकि शुक्र का गोचर इन परेशानियों के बाद भी आपको कहीं न कहीं आर्थिक उद्देश्यों को सिद्ध करने वाला बना हुआ रहेगा। वहीं नवम्बर एवं दिसम्बर के महीने में आर्थिक लक्ष्यों को हासिल करने के लिये कुछ भाग-दौड़ रहेगी। किन्तु आपके लाभ का स्तर बना हुआ रहेगा। जिससे संबंधित योजनाओं को पूरा करने में आप लगे हुये रहेंगे। कुल मिलाकर वर्ष 2021 इन महीनों में कहीं न कहीं से लाभ मिलता हुआ रहेगा। जिससे लक्ष्यों की तरफ बढ़ते हुये रहेंगे। क्योंकि वर्ष के इन महीनों में शुभ एवं अशुभ ग्रहों का प्रभाव आपके संबंधित आय भावगत बना हुआ रहेगा।

कुंभ राशि 2021 में स्वास्थ्य

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  कुंभ राशि 2021 के लिए स्वास्थ्य की दृष्टि से ध्यान में रखते हुए यह कहा जा सकता है कि 2021 की शुरुआत आपके लिए मध्यम फलदायक है, लेकिन इस साल आप को पूर्ण रूप से अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना होगा, क्योंकि स्वास्थ्य समस्याएं अक्सर ही परेशान करती रहेंगी और आपको कुछ परेशानियां दे सकती हैं। आपको अपने शरीर का पूरा ध्यान रखना होगा और संतुलित दिनचर्या से स्वयं को एक निश्चित और रुटीन में ढालना होगा, तभी आप खुद को सुरक्षित और सेहतमंद बना पाएंगे। आपको पैरों में दर्द की शिकायत हो सकती है या किसी प्रकार से पैरों में चोट लगने के भी योग बन सकते हैं। इसके अलावा नींद ना आने की समस्या या मानसिक चिंता बढ़ने से भी परेशानियां महसूस होंगी। आपकी राशि पर साढ़ेसाती चल रही है, जो मानसिक तनाव को बढ़ाने का काम करेगी। ऐसे में बेहतर यही होगा कि स्वयं पर ध्यान दें विशेष तौर पर साल के मध्य भाग में सेहत का ज्यादा ध्यान रखें। शेष समय अपेक्षाकृत अच्छा रहेगा।

कुंभ राशि 2021 में परिवार और जीवन शैली

 तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  पारिवारिक जीवन में कुंभ राशि 2021 के जातकों को इस वर्ष थोड़ी परेशानी आ सकती है क्योंकि इस पूरे ही वर्ष छाया ग्रह राहु आपकी राशि के चतुर्थ भाव में रहेगा, जिससे आपको कार्यक्षेत्र के किसी काम के चलते अपने घर से दूर जाना पड़ेगा। इस समय आप अपने परिवार को समय कम दे पाएंगे, जिससे आपके और उनके बीच दूरियाँ आने के योग बनेंगे। जो जातक किराए के मकान में रहते हैं उनके लिए समय थोड़ा बेहतर रहेगा। वहीं अपने परिवार व खुद के मकान में रहने वाले जातकों को घर से दूर यात्रा पर जाना पड़ सकता है। ग्रहों का संकेत है कि इस समय आप अपने परिवार पर खुलकर खर्च करेंगे, जिससे आपका अच्छा-खासा धन भी खर्च होगा।
राशिफल 2021 पारिवारिक दायित्वों के चलते भी धन खर्च बता रहा है और आप के ऊपर अतिरिक्त आर्थिक धन का बोझ बढ़ेगा। इस समय छोटे भाइयों को कुछ समस्या होगी, वहीं बड़े भाई-बहन से आपका किसी बात को लेकर विवाद संभव है। माता-पिता को भी कुछ स्वास्थ्य संबंधित परेशानी तकलीफ़ देगी, जिससे आपको मानसिक तनाव मिलेगा। ऐसे में आपके लिए बेहतर होगा कि जब भी समय मिले अपने परिवार के साथ उसे बिताएं और उनके साथ खुलकर बात करने का प्रयास करें।

कुंभ राशि 2021 के अनुसार शिक्षा

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  जनवरी 2021 से मार्च 2021: 2021 के इन मासों में आपको अपने शैक्षिक स्तर को और बेहतर बनाने की प्रक्रिया और अच्छा करने की जरूरत बनी हुई रहेगी। हालांकि आपको अपने विषयों को दोहराने और उनमें पकड़ बनाने के लिये और ध्यान देकर पढ़ने की जरूरत रहेगी। वैसे जनवरी से फरवरी के मध्य आपको संबंधित अध्ययन एवं ज्ञान के क्षेत्रों में कोई बड़ा पुरूस्कार प्राप्त होने की स्थिति रहेगी। यानी इन महीनों में आपको संबंधित शिक्षा एवं प्रतियोगी क्षेत्रों में कोई बड़ा पुस्कार हासिल होने की स्थिति रहेगी। ऐसे में आप अपने लक्ष्यों की तरफ निरन्तर बढ़ते हुये रहेगे। हालांकि शनि एवं गुरू की गोचरीय स्थिति आपको किसी यात्रा एवं देश-देशान्तर में सफलता हेतु दौड़ाने वाली रहेगी। यानी आपको खेल एवं शैक्षिक या फिर किसी ज्ञान जो कि आपको संबंधित कार्मिक जीवन में सफल बनाता हैं, उसके लिये पुरूस्कृत किये जाने की स्थिति रहेगी। क्योंकि इन माहों में सूर्य का गोचर आपकी प्रतिष्ठा को बढ़ाने वाला रहेगा। वहीं गुरू का गोचर एवं शनि की गोचरीय स्थिति आपको कुछ परेशानियों को देने वाली रहेगी।

अप्रैल 2021 से जून 2021:

2021 के महीनों में शैक्षिक स्तर को और अच्छा बनाने के लिये आपको पूरी मुस्तैदी के साथ आगे बढ़ने की जरूरत बनी हुई रहेगी। चाहे वह तकनीक शिक्षा के क्षेत्र हो या फिर राजनैतिक एवं सामाजिक जीवन का ज्ञान हो आपको निजी प्रयासों से जहाॅ लाभ रहेगा। वहीं विद्या भाव के स्वामी बुध का गोचर 26 मई से मिथुन राशि में होने से आप अपने अध्ययन के क्षेत्रों में वांछित परिणामों को हासिल करने मे सक्षम बने हुये रहेंगे। यानी छोटी-छोटी परेशानियों को छोड़ दे, तो कुल मिलाकर वर्ष 2021 के यह महीनें आपके अध्ययन को और सकारात्मक एवं अच्छा करने वाले रहेंगे। यानी वर्ष के इन महीनों में आप अपने कामों को बड़ी ही तत्परता के साथ करने मे सक्षम होते रहेंगे। यदि आप प्रतियोगी क्षेत्रों की तैयारी कर रहें या फिर खेल एवं कार्मिक हुनर को संवारने की कोशिश में हैं, तो आपको निश्चित तौर पर लाभ मिलता हुआ रहेगा। अतः आलस्य एवं अनावश्य बातों को छोड़कर आपको अपने लक्ष्यों की तरफ बढ़ना चाहियें। क्योंकि गुरू, शुक्र, बुध ग्रहों का गोचर आपके शैक्षिक स्तर को और अच्छा करने वाला रहेगा।

जुलाई 2021 से सितम्बर 2021:

2021 के महीनों में आप संबंधित स्कूली शिक्षा एवं वार्षिक परीक्षा में कुछ अच्छा प्रदर्शन करने को तैयार रहेंगे। क्योंकि वर्ष के इन महीनों में आपको संबंधित कला, विज्ञान, कंप्यूटर साइंस तथा नूतन एवं संवर्धित तकनीक का अच्छा फायदा मिलता हुआ रहेगा। यानी आप रोगजार की आवश्यकता को देखते हुये रोजगार परक शिक्षा में दाखिला ले सकते हैं, या फिर अपने ज्ञान में इजाफा करने और बेहतरी को लाने के लिये संकल्पित होते हुये रहेंगे। यानी शिक्षण एवं प्रशिक्षण के मौकों से बेहतरीन फायदा आपको वर्ष के इन महीनों में मिलता हुआ रहेगा। हालांकि ग्रहीय गोचर के कारण आपको कुछ अचानक परेशानियां भी आ सकती है। वैसे 13 सितम्बर तक गुरू का दृष्टि संबंध आपके शिक्षा एवं ज्ञान को उम्दा किस्म का करने वाला रहेगा। किन्तु इसके बाद संबंधित शिक्षा ज्ञान को लेकर आपको दूरस्थ स्थानों की यात्रा में जाना पडे़गा। यानी आपको निश्चित तौर पर सफलता रहेगी। किन्तु छोटी-छोटी परेशानियों को दूर करने की सतत् जरूरत बनी हुई रहेगी।

अक्टूबर 2021 से दिसम्बर 2021:

वर्ष 2021 के महीनों में आप अपने अध्ययन को अच्छा करने तथा संबंधित स्कूली एवं विश्वविद्यालय की शिक्षा में अपनी पकड़ बनाने और विषयों को तैयार करने में लगे हुये रहेंगे। हालांकि आपके विद्या भाव के स्वामी श्री बुध का गोचर वक्री गति से स्वग्रही होने के कारण संबंधित खेल एवं प्रतियोगी क्षेत्रों में दूरस्थ स्थानों में जाने के अवसर को देता हुआ रहेगा। यानी क्रीड़ा एवं अध्ययन के क्षेत्रों में निरन्तर प्रगति हेतु इन महीनों में अच्छे अवसर रहेंगे। किन्तु निकटतम प्रतिद्वन्दी को मात देने और अंतिम दौर के मुकाबले में आपको सफल होने के लिये पूरी तरफ से मुस्तैद होने की जरूरत रहेगी। हालांकि शुक्र का गोचर नवम्बर से दिसम्बर के पहले सप्ताह तक तकनीक, कला, ज्ञान, कला, प्रबंधन आदि के क्षेत्रों में सफलता को देने वाला रहेगा। आपको कोई बड़ा तथा वांछित पुरूस्कार भी प्राप्त होने की स्थिति बनी हुई रहेगी। कहने का अर्थ हैं, कि वर्ष के इन महीनों में आपको शिक्षा एवं ज्ञान के क्षेत्रों में कुछ भाग-दौड़ की स्थिति बनी हुई रहेगी।

कुंभ राशि 2021 के अनुसार वैवाहिक जीवन एवं संतान

कुंभ राशि 2021 में परिवार

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  कुंभ राशि 2021 के अनुसार, कुंभ राशि के शादीशुदा जातकों को इस वर्ष अनुकूल परिणाम मिल सकेंगे। क्योंकि आपकी राशि के वैवाहिक जीवन के भाव के स्वामी सूर्य, इस वर्ष की शुरुआत में बुध के साथ आपके लाभ और आय के एकादश भाव में युति करते हुए, दांपत्य जातकों को शुभ अवसर देने का कार्य करेंगे। जो लोग काफी समय से अपनी शादीशुदा जिंदगी को लेकर चिंतित थे, उनके लिए साल का ये समय भावनात्मक रूप से आपके रिश्ते को मजबूती देगा।
कुंभ वैवाहिक राशिफल की माने तो, नवविवाहित जोड़ों के लिए समय प्यार और सम्मान लेकर आएगा। हालांकि नवंबर और दिसंबर के महीने में, कुछ उथल-पुथल संभव है। परंतु ये विपरीत परिस्थितियाँ ज्यादा समय के लिए नहीं होंगी और जल्द ही आपको हर प्रकार के तनाव से मुक्ति मिल सकेगी। संतान के भाव के स्वामी बुध देव की इस दौरान सूर्य के साथ युति, आपकी संतान को खुशी देने का कार्य करेगी। इस समय दांपत्य जीवन में, किसी नन्हें सदस्य का आगमन भी संभव है।
कुल मिलाकर कहें तो, वैदिक शास्त्र अनुसार कुंभ राशि 2021 की भविष्यवाणी ये संकेत दे रही है कि, इस वर्ष जनवरी से मार्च का महीना आपके बच्चों के लिए सबसे अधिक शुभ रहने वाला है। हालांकि, आपको अपने सपनों को पूरा करवाने के लिए, उन पर दबाव बनाने से परहेज करने की सलाह दी जाती है।

कुंभ राशि 2021 के लिए ग्रहों का गोचर,  ग्रह स्थितियां इस प्रकार रहेंगी

  •  सूर्यः इस वर्ष 2021 में सूर्य 14 जनवरी से व्यय भाव गत गोचर करेंगे, 12 फरवरी से लग्न भाव गत, 14 मार्च से धन भावगत, 13 अपै्रल को पराक्रम भावगत, 14 मई से सुख भाव गत, 15 जून से सुत भावगत, 16 जुलाई से रोग भावगत, 16 अगस्त को दारा भावगत, 16 सितम्बर को अष्टम भावगत, 17 अक्टूबर को धर्म भावगत, 16 नवम्बर को कर्म भावगत, 15 दिसम्बर को आय भावगत गोचर करेगा।
  • चंद्रः चंद्र अपने गोचरीय तीव्रता के कारण सवा दो नक्षत्रों अर्थात् एक राशि में लगभग ढ़ाई दिनों पर्यन्त विचरण करते रहते हैं। हमें इसी भाॅति राशि चक्र में वर्ष पर्यन्त मेष से मीन पर्यन्त चन्द्र के गोचर क्रम को समझना चाहिये।
  • मंगलः मंगल इस वर्ष 2021 में, 22 फरवरी को सुख भाव में, 13 अपै्रल को सुत भाव में संचरण करेगा। 02 जून को रोग भाव में संचरण करेगा। 20 जुलाई को दारा भाव में संचरण करेगा। 06 सितम्बर को अष्टम भाव में संचरण करेगा। तथा 22 अक्टूबर को धर्म भाव में, एवं 05 दिसम्बर से कर्म भाव में संचरण करेगा।
  • बुधः बुध ग्रह इस वर्ष 05 जनवरी 2021 में व्यय भाव में, 25 जनवरी से लग्न भाव में, 30 जनवरी को वक्री, एवं 04 फरवरी को वक्री व्यय भाव में, 21 फरवरी को मार्गी, 11 मार्च को लग्न भाव में, तथा 01 अपै्रल को धन भाव में, 16 अपै्रल को पराक्रम भाव में, 01 मई को सुख भाव में, संचरण करेंगे। 26 मई को सुत भाव में, 30 मई को वक्री, 03 जून को वक्री सुख भाव में, 23 जून को मार्गी, 07 जुलाई को सुत भाव में, तथा 25 जुलाई को रोग भाव में, 8 अगस्त को दारा भाव में, 26 अगस्त को अष्टम भाव में, 22 सितम्बर को धर्म भाव में, 27 सितम्बर को वक्री, 02 अक्टूबर को वक्री अष्टम भाव में, 18 अक्टूबर को मार्गी, 02 नवम्बर को धर्म भाव में संचरण करेंगे। 21 नवम्बर को कर्म भाव में, 10 दिसम्बर को आय भाव में, 29 दिसम्बर को व्यय भाव में गोचर करेंगे।
  • गुरूः गुरू वर्ष 2021 में 06 अपै्रल को लग्नभाव में तथा 20 जून को वक्री लग्न भाव में तथा 14 सितम्बर को वक्री गति से व्यय भाव में, 18 अक्टूबर को मार्गी तथा 20 नवम्बर को लग्न भाव में संचरण करेगा।
  • शुक्रः शुक्र 2021 में 04 जनवरी को आय भाव में, 28 जनवरी को व्यय में, 21 फरवरी को लग्न भाव  में, 17 मार्च को धन भाव में, 10 अपै्रल को पराक्रम भावगत संचरण करेंगे। 04 मई को सुख भाव में, 28 मई को सुत भाव में, 22 जून को रोग भाव में, 17 जुलाई को दारा भाव में, 11 अगस्त को अष्टम भाव में, 05 सितम्बर को धर्म भाव में संचरण करेंगे। 02 अक्टूबर से कर्म भाव में, 30 अक्टूबर से आय भाव में, 08 दिसम्बर से व्यय भाव में, 19 दिसम्बर से वक्री, 30 दिसम्बर से वक्री गति से आय भाव में गोचर करेंगे।
  • शनिः शनि वर्ष 2021 मे व्यय भाव गत गोचर करेंगे।
  • राहुः राहु ग्रह वर्ष 2021 में सुख भाव गत संचरण करेंगे।
  • केतुः केतु ग्रह वर्ष 2021 कर्म भाव गत संचरण करेंगे।

2021 राशिफल महीना द्वारा महीना

 जनवरी
इस महीने में मंगल मेष राशि का तीसरे भाव में, राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का छठे भाव में, केतु-शुक्र वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का ग्यारहवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जनवरी के बीच का समय शांतिपूर्वक बीतेगा। आप सामाजिक गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। इस समय आप कोई नया काम शुरू कर सकते हैं। प्रियजनों से मुलाकात होने से मन प्रसन्न रहेगा। आपकी लाइफ स्टाइल में सुधार होगा। महीने का दूसरा सप्ताह मिलाजुला फल देने वाला रहेगा। इस समय नौकरी में तरक्की का योग बन रहा है। पुराने विवाद खत्म होंगे। धन संबंधी मामलों में आपको सतर्क रहना होगा। दूसरों की मदद करना आपको भारी पड़ सकता है। किसी निजी काम के लिए सिफारिश का सहारा लेना पड़ेगा। 16 से 23 जनवरी के बीच सन्मुख चंद्रमा सफलता दिलाएगा। ऑफिस में आप अपनी बात प्रभावशाली तरीके से रख पाएंगे। इस समय आप अपनी जिम्मेदारी ठीक तरीके से निभा पाएंगे। अंतिम सप्ताह में बिजनेस में छोटा-मोटा नुकसान हो सकता है। प्रभावशाली लोगों से संपर्क बढ़ेगा। परिवार के साथ ज्यादा समय बिताने की कोशिश करेंगे।
 फरवरी
इस महीने बुध कुंभ राशि का लग्न में, मंगल मेष राशि का तीसरे भाव में, राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का आठवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शुक्र-शनि-सूर्य-गुरु मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा।  महीने के आरंभ में किसी से आपका विवाद हो सकता है। थोड़े से फायदे के लिए गलत लोगों से सौदा कर सकते हैं। इस समय बिजनेस में कोई जोखिम न उठाएं। नौकरी में अधिकारी आपके काम से खुश रहेंगे। ऐशो-आराम की चीजों पर खर्च होगा। 8 से 15 फरवरी के बीच विद्यार्थियों को सफलता मिल सकती है। अपना लक्ष्य प्राप्त करके ही दम लेंगे। 10 और 11 फरवरी को समय विपरीत रहेगा। इस समय आप कानूनी मामलों में फंस सकते हैं। समय सामान्य कामों में व्यतीत होगा। महीने के तीसरे सप्ताह में आप बहुत ही सोच-विचार का काम करेंगे। चंद्रमा और राहु की युति चौथे स्थान पर होने से पिता या भाइयों से विवाद हो सकता है। परिवार के किसी बुजुर्ग व्यक्ति की तबीयत खराब हो सकती है। दोस्तों और  सहयोगियों की मदद से रुका हुआ काम पूरा हो सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में कहीं बाहर जाने का मौका मिलेगा। घर में कोई नया मेहमान आ सकता है।
 मार्च
इस महीने सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का लग्न में, राहु-मंगल वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का आठवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि-बुध-गुरु मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत ठीक नहीं रहेगी। बेचैनी और अनिद्रा के कारण परेशान हो सकते हैं। सिर दर्द और बुखार जैसी समस्या हो सकती है। कानूनी मामलों में फंस सकते हैं। इस समय आपको अतिरिक्त आय की जरूरत महसूस होगी इसके लिए आप कड़ी मेहनत करेंगे। 8 से 15 मार्च के बीच किसी सुखद यात्रा पर जा सकते हैं। ऑफिस का काम समय पर पूरा कर पाएंगे। किसी सामाजिक कार्यक्रम में जाकर परेशानी का अनुभव करेंगे। मन में संतुष्टि का भाव रहेगा। कोई झूठा आरोप आप पर इस समय लग सकता है। आप पर काम का अतिरिक्त बोझ रहेगा। महीने के तीसरे सप्ताह में तीसरा चंद्रमा फायदा पहुंचाएगा। जनहित के कामों में समय व्यतीत होगा। प्रेम प्रसंगों में सफलता मिल सकती है। बिजनेस की तरक्की के लिए किए गए काम सफलता दिलाएंगे। 24 से 31 मार्च के बीच घर के लिए नई चीजों की खरीदारी होगी। मौसम में बदलाव के कारण सर्दी जुखाम की समस्या हो सकती है। कोई शुभ समाचार इस समय आपको मिलेगा।
 अप्रैल
इस महीने में सूर्य-बुध-शुक्र मीन राशि का दूसरे भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा-केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि-गुरु मकर राशि का  बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में भौतिक सुख-सुविधाओं की प्राप्ति होगी। आपका आत्मविश्वास पहले से बढ़ा हुआ रहेगा। मौसमी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समय दुश्मनों से सावधान रहने की जरूरत है। धन प्राप्ति का मौका लापरवाही के कारण हाथ से निकल सकता है। 8 से 15 के बीच आप कोई महत्वपूर्ण निर्णय ले सकते हैं। खर्च की अधिकता रहेगी। परिवार के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं। नए संपर्कों का लाभ इस समय आपको मिलेगा। महीने के तीसरे सप्ताह में किसी प्रियजन से विवाद हो सकता है। अनेक चुनौतियां इस समय आपके सामने आ सकती हैं। नौकरी में संतोषजनक स्थिति रहेगी। लोग आपके काम की प्रशंसा करेंगे। संतान से जुड़ा कोई महत्वपूर्ण काम इस समय हो सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में कोई अजनबी आपको धोखा दे सकता है। किसी की बातों में ना आए और ना ही भावनाओं में आकर कोई फैसला लें। अधिकारियों से अपना काम निकलवाने में सफल रहेंगे।
 मई
इस महीने बुध कुंभ राशि का लग्न में, सूर्य-शुक्र मेष राशि का तीसरे भाव में, बुध- राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, मंगल मिथुन राशि का पांचवें भाव में, केतु  वृश्चिक राशि का दसवे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का ग्यारहवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में बिजनेस में हानि होने के योग बन रहे हैं। पति पत्नी में छोटी-छोटी बातों को लेकर तकरार हो सकती है। सिर दर्द या गैस से जुड़ी समस्या होगी। 5 और 6 मई को कोई अच्छी खबर मिल सकती है। विद्यार्थियों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। 18 से 15 मई के बीच कोर्ट केस में सफलता के योग बन रहे हैं। संपत्ति से जुड़े विवाद किसी की मध्यस्थता से हल हो सकते हैं। प्रेम प्रसंग में सफलता मिलेगी। फिजूलखर्ची पर नियंत्रण रखें नहीं तो उधार लेने की नौबत आ सकती है। 16 से 23 मई के बीच उत्तम धनदायक समय रहेगा। चारों ओर से लाभ की प्राप्ति होगी। भविष्य को लेकर कोई नई योजना बना सकते हैं। घर परिवार को पूरा समय देंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में इंटरव्यू या प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। बिजनेस और नौकरी में तरक्की के योग इस समय बन रहे हैं।
 जून
इस महीने में गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का लग्न में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का पांचवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत में गुरु और चंद्रमा की युति आपको धन और स्वास्थ्य संबंधित फायदा पहुंचाएगी। गुरुजनों का आशीर्वाद मिलेगा। किसी जरूरतमंद की मदद इस समय आप कर सकते हैं। अचानक धन लाभ का योग बन रहा है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए बहुत ही शुभ रहेगा। 8 से 15 जून के बीच तनाव की स्थिति बन सकती है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव और अति व्यस्त होने के कारण आप थोड़े चिड़चिड़ा हो सकते हैं। समाज कल्याण के कामों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे। अटके हुए कामों को नए सिरे से शुरू कर सकते हैं। पारिवारिक समस्याओं पर ध्यान नहीं दे पाएंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में विद्यार्थियों को मनचाही सफलता नहीं मिल पाएगी। आपको अपनी कार्यशैली में बदलाव लाना होगा। इस समय आप किसी मसले को लेकर असमंजस में फंस सकते हैं। 24 से 30 जून के बीच पूजा पाठ में मन लगेगा। संतान की सफलता से खुशी मिलेगी। आप कुछ अच्छी आदतों को अपने जीवन में शामिल कर सकते हैं।
 जुलाई
इस महीने में गुरु कुंभ राशि का लग्न में, चंद्रमा मीन राशि का दूसरे भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का चौथे भाव में, सूर्य मिथुन राशि का पांचवे भाव में, मंगल- शुक्र कर्क राशि का छठे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत में संतुष्टि का भाव मन में रहेगा। दोगुने उत्साह के साथ अपने कामों को आगे बढ़ाएंगे। आर्थिक स्थिति पहले से मजबूत होगी। हेल्थ से जुड़ी सावधानियों का ध्यान रखना होगा। किसी विवाद में ना पड़ें। 18 से 15 जुलाई के बीच आपका पूरा ध्यान अपने काम पर होगा। सुख-सुविधाओं पर पैसा खर्च होगा। इस समय आप दिल की जगह दिमाग से काम लें। किसी प्रियजन से जुड़ी अच्छी खबर मिल सकती है। खेलकूद में रुचि बढ़ सकती है। महीने के तीसरे सप्ताह में ना चाहते हुए भी आपको कुछ काम करने पड़ेंगे। इस समय आपको हिम्मत से काम लेना होगा। आवश्यक घरेलू कामों पर पैसा खर्च होगा। रुके हुए काम दूसरों की मदद से पूरे हो सकते हैं। 24 से 31 जुलाई के बीच समय विपरीत रहेगा। स्वास्थ्य में गिरावट महसूस करेंगे। कोई काम समय पर पूरा नहीं कर पाएंगे। विद्यार्थियों की सूची पढ़ाई से ज्यादा खेलकूद में रहेगी।
 अगस्त
इस महीने गुरु कुंभ राशि का लग्न में, चंद्रमा मेष राशि का तीसरे भाव में, राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, सूर्य-बुध-कर्क राशि का छठे भाव में, मंगल-शुक्र सिंह राशि का सातवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत पारिवारिक कलह से होगी। आपका मूड ऑफ रहेगा। कड़ी मेहनत करने के बाद भी सफलता नहीं मिल पाएगी। इस समय किसी से विवाद ना करें, नहीं तो मुश्किल और भी बढ़ सकती है। 8 से 15 अगस्त के बीच का समय उत्तम फलदायक है। इस समय आप शांति का अनुभव करेंगे। कुछ विशेष लोगों से मुलाकात हो सकती है, जो भविष्य में आपके काम आ सकते हैं। करियर में आगे बढ़ने के मौके मिलेंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में पुश्तैनी संपत्ति मिलने के योग बन रहे हैं, लेकिन बिजनेस में पैसा फंस सकता है। विद्यार्थियों के लिए यह समय मिश्रित फल देने वाला रहेगा। कामकाज में लापरवाही ना करें। 24 से 31 अगस्त के बीच आपको सूझबूझ से काम लेना होगा ताकि नए अवसर हाथ से ना निकल सकें। नौकरी में स्थानांतरण के योग बन रहे हैं। धन प्राप्ति के लिए किए गए आपके प्रयोग सफल साबित होंगे।
 सितंबर
इस महीने गुरु कुंभ राशि का लग्न में, राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-मंगल सिंह राशि का सातवें भाव में, बुध-शुक्र कन्या राशि का आठवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 सितंबर के बीच सेहत की ओर आपका ध्यान अधिक रहेगा। योग प्राणायाम आदि की शुरुआत कर सकते हैं। प्रेम प्रसंगों में सफलता मिल सकती है। बेरोजगारों को रोजगार मिलने के योग बन रहे हैं। इस समय आप पैसों की बचत करेंगे और सही स्थान पर निवेश करेंगे। महीने के दूसरे सप्ताह में कामकाज में परेशानी हो सकती है। आपका हक आपसे छीना जा सकता है। 16 से 23 सितंबर के बीच आपका बजट गड़बड़ा सकता है। पैसों की आवक पहले से कम होगी। कोई नया काम इस समय शुरू ना करें। मेहमानों का आगमन होगा। किसी व्यक्ति को लेकर मन में चिंता का भाव रह सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में आप थोड़े परेशान रहेंगे। इस समय आप इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। दैनिक कामों में समय व्यतीत होगा। मकान, दुकान या ऑफिस इस समय बदल सकते हैं।
 अक्टूबर
इस महीने में राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का छठे भाव में, सूर्य-मंगल कन्या राशि का आठवें भाव में, बुध-शुक्र तुला राशि का नौवें भाव में,  केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में कोई अच्छी खबर आपको मिल सकती है। परिवार के वरिष्ठों का आशीर्वाद मिलेगा। आर्थिक स्थिति सामान्य रहेगी। इंटरव्यू में असफलता मिल सकती है। काम की अधिकता से थकान का अनुभव करेंगे। किसी चीज से एलर्जी हो सकती है। 8 से 15 अक्टूबर के बीच दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। संतान की ओर से निश्चिंत रहेंगे। पारिवारिक सुख-शांति में वृद्धि होगी। कोई उत्साहजनक समाचार मिल सकता है। कोई बड़ा निर्णय परिवार की सहमति से इस समय आप ले सकते हैं। महीने के तीसरे सप्ताह में किसी मांगलिक कार्यक्रम में जाने का अवसर मिलेगा। अधूरे पड़े काम पूरे होंगे। व्यापारिक यात्रा पर जा सकते हैं। 24 से 31 अक्टूबर के बीच काम में की गई लापरवाही नुकसान पहुंचा सकती है। इस समय आप भावनात्मक रूप से खुद को कमजोर महसूस करेंगे।
 नवंबर
इस महीने राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा सिंह राशि का सातवें भाव में, बुध कन्या राशि का आठवें भाव में, सूर्य-मंगल तुला राशि का नौवें भाव में, केतु  वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शुक्र धनु राशि का ग्यारहवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने का प्रथम सप्ताह बेकार के कामों में व्यतीत होगा। आमदनी कम होने से मन में तरह-तरह की शंकाएं उत्पन्न होंगी। सोच-समझकर ही किसी से बात करें। कोई आपकी बात का गलत अर्थ निकाल सकता है। इस समय आपको अपने करियर के बारे में सोचने का मौका मिलेगा। 8 से 15 नवंबर के बीच आपको वरिष्ठ लोगों का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। इस समय आप धैर्य से काम लेंगे और अपने लक्ष्य की ओर बढ़ते चले जाएंगे। विरोधी चाह कर भी आपका कुछ बिगाड़ नहीं पाएंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में आपको मान सम्मान प्राप्त होगा। धार्मिक और सामाजिक काम में व्यस्तता रहेगी। आपकी ज्यादा चतुराई आपको ही नुकसान पहुंचा सकती है। कामकाज की स्थिति में पहले से सुधार आएगा। 24 से 30 नवंबर के बीच समय का सदुपयोग कर पाएंगे। मन में संतुष्टि का भाव रहेगा। कार्य को पूरा करने में किसी व्यक्ति की मदद ले सकते हैं।
 दिसंबर
इस महीने में गुरु कुंभ राशि का लग्न में, राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का आठवे भाव में, मंगल तुला राशि का नौवें भाव में, सूर्य-बुध-केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शुक्र धनु राशि का ग्यारहवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 दिसंबर के बीच कोई नया काम शुरू कर सकते हैं। आप स्वयं को पहले से अधिक ऊर्जावान महसूस करेंगे। ससुराल पक्ष का सहयोग मिलेगा। कोई बड़ी व्यापारिक डील इस समय हो सकती है। सरकारी कामों में सफलता प्राप्त होगी। महीने के दूसरे सप्ताह में काम का बोझ अधिक होने के कारण थकान का अनुभव करेंगे। नई प्रॉपर्टी इस समय खरीद सकते हैं। पड़ोसियों से संबंधों में मधुरता आएगी। किसी कानूनी मसले में फंस सकते हैं। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। महीने के तीसरे सप्ताह में आय से अधिक खर्च हो सकता है। किसी प्रियजन की सेहत को लेकर मन में चिंता बनी रहेगी। आता हुआ पैसा अटक सकता है। इस समय यात्राओं का जोर रहेगा। बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए लोगों से मुलाकात होगी। 24 से 31 दिसंबर के बीच व्यर्थ के वाद-विवाद में उलझ सकते हैं। नए साल के लिए कुछ योजनाएं बनाएंगे। इस समय आपको मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।

कुंभ घर राशिफल 2021

कुंभ राशि 2021 में घर

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे मकान के योग की बात करें तो साल 2021 के अंदर कुंभ राशि वाले जातक मकान खरीदते हुए नजर आ सकते हैं। अपने परिवार के लिए आप नए मकान का यदि सपना पिछले काफी सालों से सजाते आ रहे हैं और किसी न किसी दिक्कत की वजह से आपका यह सपना पूरा नहीं हो पा रहा है तो साल 2021 में आप घर लेते हुए नजर आ सकते हैं। आपको परिवार वालों की तरफ से घर खरीदने के लिए पैसे मिल सकते हैं या ससुराल पक्ष की तरफ से भी धन के लाभ की स्थिति बनती हुई नजर आ सकती है। कुल मिलाकर बोले तो साल 2021 में आप घर लेते हुए दिख सकते हैं।

कुंभ राशि 2021 में वाहन

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे कुंभ वाहन राशिफल 2021  वाहन की बात करें तो वाहन के योग इस साल आपके खुद के तो नहीं बन रहे हैं लेकिन कंपनी की तरफ से आपको वाहन मिलता हुआ नजर आ सकता है और यह गाड़ी अच्छी गाड़ी होगी, जिसको कि आपको स्वीकार करना चाहिए। बहुत अधिक लालच में ना बैठे। आपको जो भी मिल रहा है जैसा मिल रहा है, उसको स्वीकार करें और समय का आनंद लें। गाड़ी के ऊपर बेवजह फिजूल खर्च ना करें।

कुंभ राशि 2021 में लाभ

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे कुंभ राशिफल 2021 के अनुसार, साल 2021 में लाभ की बात करें तो आपको लाभ प्राप्त होता हुआ नजर आएगा। व्यापार की दृष्टि से साल 2021 काफी अच्छा है आपको पैसे और धन की प्राप्ति होती हुई दिखने वाली है। व्यापार में आपको फायदा पहुँचेगा और नौकरी में आपकी सैलरी बढ़ती हुई नजर आएगी, जो आपको खुश कर देगी। साथ ही साथ धन से जुड़ी हुई ऐसी बातें जिनमें शामिल है किसी से लिया हुआ पैसा, यदि आप ने पिछले साल कोई उधार ले रखा है तो इस साल आप उसको उतार सकते हैं और यह आपके लिए सबसे अच्छी बात साबित होगी।

कुंभ खर्च राशिफल 2021

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे  राशिफल 2021 के अनुसार, खर्च को लेकर बात करें तो साल 2021 में स्वास्थ्य के ऊपर आपका सबसे अधिक धन खर्च होता हुआ नजर आएगा। अपने स्वास्थ्य के ऊपर, अपने माता पिता के स्वास्थ्य के ऊपर और अपनी पत्नी के स्वास्थ्य के ऊपर आप पैसा खर्च करते हुए दिखेंगे, इससे आप बच नहीं पाएंगे। बाकी जगहों पर आप बहुत अधिक पैसा खर्च नहीं करेंगे। इसके अतिरिक्त मकान खरीदने में भी पैसा लगाते हुए नजर आ सकते हैं।

कुंभ राशिफल 2021 का ओवरव्यू

कुंभ :~ ग, स, श, ष : तंत्राचार्य आचार्य. श्री. जिनचन्द्रसूरीश्र्वरजी कहते हे कुंभ राशि 2021 की भविष्यवाणी के अनुसार, मंगल छठे भाव में होने के कारण आपको अपने शत्रु और विरोधियों की तरफ से कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन इन दिक्कतों से घबराएं नहीं, काफी बड़ी दिक्कतें नहीं होंगी। आप अपने मनोबल और अपने आत्मविश्वास के दम पर विरोधियों को हराते हुए नजर आएँगे। शुक्र की स्थिति को देखें तो यह अष्टम भाव में विराजमान है जो यह दिखा रहा है कि इस साल लाइफ पार्टनर का स्वास्थ्य आपके लिए एक बड़ी समस्या बनता हुआ नजर आएगा। आप खानपान और विश्राम पर ठीक ढंग से ध्यान देते रहें। व्यवसाय की बात करें तो साल 2021 आपको  व्यवसाय के अंदर लाभ और हानि दोनों चीजों का सामना करना पड़ सकता है। शुरुआती महीनों की बात करें तो जनवरी-फरवरी और मार्च में व्यवसाय के लिहाज से सामान्य बोला जा सकता है। सप्तम भाव में जिस तरीके से पंच ग्रही योग उत्पन्न हो रहा है तो उसको देखकर बोला जा सकता है कि जैसे-जैसे साल बीतेगा और अप्रैल-मई जून का समय आपके लिए व्यापार के लिहाज से और फाइनेंस के लिहाज से बहुत ही सुनहरा और अच्छा जाता हुआ नजर आएगा। कुंभ राशि 2021 में आप कुछ काम ऐसे जरूर करेंगे जो कि आपको बहुत अधिक लाभ प्रदान करते हुए दिखेंगे और साथ-साथ सम्मान प्राप्त होगा। आप अपनी मेहनत के दम पर कुछ असंभव कार्यों  को भी करते हुए दिखने वाले हैं।
वर्ष की शुरुआत में राहु जोकि आपकी राशि में विराजमान होंगे तब उस समय आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आप इस समय में यात्रा न करें। आप यदि यात्रा करेंगे तो यह आपको बाद में स्वास्थ्य के लिहाज से सही नहीं होगा।साल 2021 में अगर कहीं पर सबसे अधिक दिक्कत नजर आ रही है तो वो हैं आपका राहु। राहु की वजह से आपका धैर्य खोता हुआ दिखेगा। हर काम में आप बहुत जल्दी धैर्य खोने लगेंगे। यहां तक कि अपने परिवार और सगे संबंधियों के साथ भी आप धैर्य खो देंगे। इसके कारण आपके सामने बहुत बड़ी समस्याएं खड़ी होती हुई नजर आने वाली हैं। कुंभ राशिफल 2021 के अनुसार, साल 2021 के अंदर प्रेम संबंधों की बात करें तो साल 2021 में प्रेम संबंधों में थोड़ी बहुत समस्याएं उत्पन्न होती हुई नजर आ सकती हैं। आप इस साल अपने प्रेमी के साथ खुद को सुरक्षित महसूस नहीं करेंगे और लगातार उसके ऊपर शक और शंकासे घिरे हुए रहेंगे। इसी वजह से लगातार आपके बीच में झगड़ेहोना शुरू हो जाएंगे और यह झगड़े आपके रिश्ते पर इस कदर हावी होते नज़र आ सकते हैं कि जहां पर आप एक दूसरे से अलग होने का मन बना लें। लेकिन आप अगर यहां पर धैर्य से काम करेंगे तो आपके लिए बेहतर साल गुजरता हुआ नजर आ सकता है।
साल 2021 के अंदर विदेश यात्रा की बात करें तो आपको विदेश यात्रा के योग उत्पन्न होते हुए नजर आ रहे हैं। आप 2021 के मध्य समय में विदेश यात्रा पर जाते हुए देखे जा सकते हैं। यह विदेश यात्रा आपके लिए सुखद परिणाम देने वाली साबित हो सकती हैं। आप इस यात्रा पर व्यापार से जुड़े हुए कुछ समझौते करते हुए नजर आएँग जोकि भविष्य में आपको और आपकी कंपनी को अच्छा मुनाफ़ा कमा के देने में सफल रहेगी। ऐसे जातक जो कि पिछले काफी समय से नौकरी की तलाश कर रहे हैं उनके लिए साल अच्छा हैं। ऐसे जातकों को साल 2021 में कई सारे मौके मिलते हुए दिखने वाले हैं। इतना ही नहीं, सही मौका और सही समय देखकर आप नौकरी बदलते हुए नजर आ सकते हैं। साल 2021 में जो जातक स्टार्टअप शुरू करने का प्लान बना रहे हैं तो ऐसे जातकों को साल 2021 में थोड़ा इंतजार और करना पड़ सकता है। आपकी प्लानिंग समय के अनुरूप नहीं चल पाएगी कि आप कुछ नया शुरू कर पाए। लेकिन इसके बावजूद भी आपको निराश नहीं होना है। समय जैसे-जैसे आगे बढ़ेगा उसी के अनुसार परिस्थितियां बदलती हुई नजर आएँगी।
 कुंभ राशि के लिए 2021 साल कुछ क्षेत्रों में बहुत अधिक अच्छा गुजरता हुआ नजर आएगा। मकान और वाहन के लिए साल 2021 काफी अच्छा जा सकता है। अपने  मकान में प्रवेश करते हुए नजर आ सकते हैं।और आप नई नौकरी लगने की खुशी में नया वाहन भी खरीदते हुए नजर आ सकते हैं। कंपनी की तरफ से भी आपको मकान और वाहन का योग प्राप्त होता हुआ नजर आ सकता है। कंपनी से प्राप्त हुआ घर और वाहन आपको सुखद फल देता हुआ नजर आएगा। इनको स्वीकार करने में बिल्कुल भी देरी ना करें। बच्चों के स्वास्थ्य की बात करें तो साल 2021 में आपके बच्चों का स्वास्थ्य बहुत अधिक समस्याएं आपके लिए उत्पन्न नहीं करेगा। लेकिन साल के शुरुआत में आपको बच्चों के स्वास्थ्य के ऊपर ध्यान देना चाहिए। यहां पर बच्चों के स्वास्थ्य के लिए समस्याएं खड़ी हो सकती हैं। इसके साथ ही, बच्चों की पढ़ाई के ऊपर आप पूरा पूरा ध्यान देते हुए नजर आएँगे और खुद भी बच्चों की पढ़ाई पर समय देंगे जो एक अच्छी बात है। यह देखकर आपके कदमों पर दूसरे लोग भी चलते हुए नजर आएँगे। बच्चों के ऊपर और बच्चों की पढ़ाई के ऊपर आप पूरा खर्च करेंगे। इसके अंदर आप किसी भी तरीके की रियायत नहीं करेंगे।

यह होंगें उपाय

  • लाभ दायक वनस्पति शमि के पौधे की जड़ को रखने से नीश्चीत लाभ दायक है
  • आप को दान मे तल का तेल- लोहा  दे तो फ़ायदा होगा
  • आपको अपने पास नीला (BLUE) रंग वस्त्र रखना है
  • इस मंत्र के प्रभाव से धन, यश और समृद्धि की वृद्धि होगी।
            ॐ ऐं क्लीं ह्रीं श्रीं सौं: 
 उपाय नित्य शनी ग्रह के जाप करे 6 मंत्र मे से जो आपको योग्य लगे वो
      श्री शनि देवता
  1. ॐ शनैश्चराय ॐ क्रों ह्रीँ  क्रोंडाय नम: स्वाहा
  2. ॐ ह्रीँ श्रीँ मुनिसुव्रतस्वामिन् खां खीं खौं शनैश्र्चराय नम:
  3. ॐ ह्रीँ नमो लोअे सव्व साहूणं
  4. ॐ एँ ह्रीँ श्री शनैश्र्चराय नम:
  5. ॐ नीलांजनसमाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम । छायामार्तण्डसंभूतं तं नमामि शनैश्चरम ।।
  6. ॐ शं शनैश्चराय नम:
 नित्य हर शनीवार को आयंमबिल या ऐकासणा करे ( ऐक वक्त ही भोजन करे) नित्य  श्री शांतिनाथस्वामि की उपासना करें।
कुंभ राशि 2021 by jain muni
जिन शीशू अजित
_देवी स्वप्न द्वारा निर्मित_ ८४ जिनालय समलंकृत
 सावत्थीतीर्थ धाम
_बावला, अहमदाबाद_
02714232612
आजीवन गुरुचरणसेवी
मुनी अजितचन्द्र विजय
Whatsapp 09824010332
Spread the love

Leave a Reply